गुरुवार, 26 अप्रैल 2012

उज्जवल भविष्य का इंश्योरेंस लाया हूँ

उज्जवल भविष्य का  इंश्योरेंस लाया हूँ 
किस्मत चमकाने का स्योरेंस लाया हूँ
मुझपर अविश्वास करके पाप का भागी न बन 
टीवी वाला बाबा हूँ,  चुना लगाने का लाइसेंस लाया हूँ  

2 टिप्‍पणियां:

  1. चलिए इस रचना से आप पर बाबा की कृपा हो जायेगी,..

    वाह!!!!बहुत सुंदर करारी प्रस्तुति,..

    MY RECENT POST...काव्यान्जलि ...: गजल.....

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति |
    शुक्रवारीय चर्चा मंच पर ||

    सादर

    charchamanch.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं