रविवार, 5 फ़रवरी 2012

राजा का किया भुगतेगी प्रजा

मुजफ्फरपुर से पकड़ी  गयी  बच्ची  की मां -माता कभी कुमाता नहीं होती 

कुर्सी पाना ही लक्ष्य  नहीं होना चाहिए - क्योंकि कुर्सी तो दुकान से भी  पाई जा सकती है 

गरीबों की मौत पर गरमाएगी सियासत - चुनाव होने वाला है क्या 

नकली मिनरल वाटर के धंधे का भंडाफोड़ - मतलब सरकार पानी की कमी को पूरा नहीं होने देना चाहती 

राजा का किया भुगतेगी प्रजा - राजा के प्रति प्रजा का भी तो कुछ कर्त्यव्य बनता है 

1 टिप्पणी: